आर्ट ऑफ वॉर (युद्ध की कला) – इस प्राचीन ग्रंथ की शिक्षाएं आज भी प्रासंगिक बनी हुई हैं-पच्चीस शताब्दियों से भी अधिक समय पहले इसे लिखा गया था; क्योंकि इसके निर्देश किसी भी क्षेत्र में लागू किए जा सकते हैं। आर्ट ऑफ वॉर अर्थात् ‘युद्ध की कला’ किसी भी राष्ट्र के लिए अत्यंत महत्त्वपूर्ण है। इससे जीवन और मृत्यु का निर्धारण होता है। यह एक ऐसा मार्ग है, जहां या तो सुरक्षा है या फिर विनाश। अतः यह एक ऐसा गहनतम् विषय है, जिसकी किसी भी कारणवश उपेक्षा नहीं की जा सकती है।”। आर्ट ऑफ वॉर एक अमर कृति है, जिसका पूर्वी एशिया की संस्कृति एवं इतिहास में विशेष स्थान है। युद्ध और सैन्य रणनीति के दर्शन और राजनीति पर आधारित यह प्राचीन चीनी ग्रंथ ई.पू. छठी शताब्दी के एक सुप्रसिद्ध योद्धा-दार्शनिक सुन त्जू द्वारा लिखा गया।

Twenty-Five Hundred years ago, Sun Tzu wrote this classic book of military strategy based on Chinese warfare and military thought. Since that time, all levels of military have used the teaching of Sun Tzu to warfare and civilization have adapted these teachings for use in politics, business, and everyday life.

The Art of War is a book that should be used to gain the advantage of opponents in the boardroom and battlefield alike. Now you can experience the effectiveness of Sun Tzu’s teachings even if you have no previous knowledge of the Art of War. The insightful yet unobtrusive facing-page commentary explains the subtleties of the text, allowing you to unlock the power of its teachings and help prevent and resolve the conflicts in your own life.